Hindi Application | Avedan Patra to Principal for Free Studentship - निर्धन छात्र-छात्रा कोष से पूर्ण निःशुल्क छात्र-वृत्ति की माँग करते हुए प्राचार्य को आवेदन पत्र

 

Hindi Application | Application in Hindi 

Hindi Avedan Patra

Application to Principal in Hindi for Free Studentship

निर्धन छात्र-छात्रा कोष से सहायता (छात्रवृत्ति / पूर्ण निःशुल्क छात्र-वृत्ति) की माँग करते हुए प्राचार्य को आवेदन पत्र लिखिए।

दिनांक : . . . . . . .   
सेवा में,
श्रीमान प्राचार्य महोदय,
गज़ब विद्यालय
अजबनगर (महाराष्ट्र)

द्वारा: वर्गाध्यापक महोदय

आदरणीय महोदय,


विनम्र निवेदन है कि मैं आपके विद्यालय में आठवें वर्ग की एक बहुत ही निर्धन छात्रा हूँ। मेरे परिवार में मेरे पिता ही एक मात्र उपार्जन-कर्ता हैं, और उन्हें सात सदस्यों का पालन-पोषण करना पड़ता है। वे ज़िला बोर्ड में चतुर्थ श्रेणी के एक कर्मचारी हैं। मेरे पिताजी की सीमित मासिक आमदनी इतनी भी नहीं कि घर का सारा खर्च चला सकें; स्कूल-फीस देना तो दूर की बात है। ऐसे में आगे शिक्षा जारी रख पाना मेरे लिए कठिन लग रहा है।  

मैं न केवल अपने वर्ग की एक मेधावी छात्रा हूँ बल्कि एक अच्छी एथिलीट भी हूँ और अपने विद्यालय की ओर से कई प्रतियोगिताओं में भाग लेकर पदक प्राप्त कर चुकी हूँ। मैं ने "इंटर स्कूल डिबेट कॉम्पटीशन" में भी अपने विद्धालय के लिए प्रथम पुरस्कार के रूप में ट्राफी जीती है। 


अतः मेरी आपसे सादर प्रार्थना है कि आप मेरे भविष्य, मेरे पिताजी की और मेरे परिवार की वर्तमान आर्थिक परिस्थिति को ध्यान में रखकर मुझे निर्धन छात्र-छात्रा कोष से दी जाने वाली "पूर्ण निःशुल्क छात्र-वृत्ति" (Full Free Studentship) सहायता प्रदान करने की कृपा करें ताकि मैं निश्चिन्त होकर पढ़ाई जारी रख सकूँ। आपकी इस कृपा के लिए मैं सदा आभारी रहूँगी। इस उम्मीद के साथ कि आप मुझे निराश नहीं करेंगे और "पूर्ण निःशुल्क छात्र-वृत्ति" प्रदान करने की कृपा करेंगे, 


१० जनवरी, २०१७                                                                    
 आपकी आज्ञाकारि शिष्या
                                                                                            कुमारी रेणुका शर्मा, अष्टम वर्ग

Click for more Hindi Essays (Nibandh / Rachna), Letters (Patra), Applications (Avedan Patra), Vyakaran (Hindi Grammar) 

No comments:
Write comments

More From Us