NCERT Answers of Class 7 Hindi Vasant Bhag 2, Chapter 16 exercise questions - भोर और बरखा | Ncert Solutions of Class VII Hindi Basant

 

Class 7 Hindi - Chapter 16, Vasant (Basant) Bhag 2

(NCERT Solutions)

(NCERT Answers of  textbook chapter exercise questions)

भोर और बरखा

कविता से
Question 1: 'बंसीवारे ललना', 'मोरे प्यार', 'लाल जी', कहते हुए यशोदा किसे जगाने का प्रयास करती हैं और वे कौन-कौन सी बातें कहती हैं ?  
Answer: 'बंसीवारे ललना', 'मोरे प्यार', 'लाल जी', कहते हुए यशोदा श्रीकृष्ण को जगाने का प्रयास कर रही हैं । वह उनको नींद से जगाने का प्रयास में कहती हैं कि मेरे लाल! अब निद्रा त्याग दो और उठो।  रात बीत गई और प्रातः का समय हो गया है।  सभी घरों के दरवाजे खुल चुके हैं, गोपियाँ दही बिलो रही हैं । वे तुम्हारा मनभावन मक्खन निकाल रही हैं। वे श्रीकृष्ण से कहती हैं कि द्वार पर सभी देव और मानवजन खड़े हैं जो तुम्हारें दर्शनों की प्रतीक्षा कर रहे हैं। तुम्हारे सखा तुम्हारी जय-जयकार कर रहे हैं। ओ बंसीवाले गौओं के रखवाले कृष्ण ! यह सभी हाथ में माखन और रोटी लेकर गाएँ चराने के लिए तुम्हें अपने साथ ले जाने को आतुर हैं, अतः तुम जल्दी से उठ जाओ।        

Question 2: नीचे दी गयी पंक्ति का आशय अपने शब्दों में लिखिए - 'माखन-रोटी हाथ महं लीनी, गउवन के रख्वारे ।'  
Answer: प्रश्न में उक्त पंक्ति का आशय है कि ब्रज के सभी ग्वाल वालों ने हाथ में रोटी और मक्खन लिया हुआ है और वे गौएँ चराने जाने के लिए श्रीकृष्ण के इंतज़ार में खड़े हैं।  

Question 3:  पढ़े हुए पद के आधार पर ब्रज की भोर का वर्णन कीजिए ।   
Answer: ब्रज के सभी लोग सुबह होते ही जग चुके हैं। सभी के घरों की दरवाजे खुल गए हैं।  वे सभी अपने-अपने घरों की सफाई में लगे हैं। गोपियों दही बिलोने से अपनी पहली घरेलु नित्यकर्म प्रारंभ करती हैं।  ग्वाल वाले  अपने पशुओं को चराने हाथ में मक्खन और रोटी लेकर चरगाह की ओर जाने को तैयार हैं।  लोग उत्सुक होकर दरवाज़े पर खड़े हो कर देखती हैं। लोगों को आशीर्वाद देने देवता सभी के घर-घर आतें हैं । ऐसा माना जाता है कि जो सवेरे जागता है उसे देवता आशीर्वाद देते हैं।  इसके बाद सभी अपने दैनिक कार्य में लग जाते हैं।    

Question 4:  मीरा को सावन मनभावन क्यों लगने लगा ?
Answer: मीरा को सावन इसलिए मनभावन लगने लगा क्योंकि सावन के आते ही उन्हें श्रीकृष्ण (हरि) के आने की भनक हो गयी तथा प्रकृति में चारों ओर का वातावरण में सुंदरता का माहौल फ़ैल गया।  

Question 5:  पाठ के आधार पर सावन की विशेषताएँ लिखिए।  
Answer: पाठ में सावन की विशेषताएँ कुछ इस प्रकार वर्णन किये गए हैं जैसे मानों सावन के आते ही बादल उमड़-घुमड़कर चारों दिशाओं में फ़ैल जाते हैं।  बिजली चमकने लगती है । साथ में वर्षा की नन्ही-नन्ही बूँदों की झड़ी लग जाती है।  पवन एकदम से शीतल और सुहावनी लगने लगती है।     

कविता से आगे

Question 1:  मीरा भक्तिकाल की प्रसिद्द कवयित्री थीं । इस काल के दूसरे कवियों के नामों की सूची बनाइए तथा उनकी एक-एक रचना का नाम लिखिए ।    
Answer: १. कवि - सूरदास, रचना - सूरसागर
२. कवि - तुलसीदास, रचना - रामचरितमानस

     Also study - 


No comments:
Write comments

More From Us